Ae Re Sakhi Lyrics from Bandish Bandits in Hindi

Ae Re Sakhi Lyrics from Bandish Bandits in Hindi | Latest Song 2020

Ae Re Sakhi Lyrics from Bandish Bandits in Hindi this song sung by Shankar Mahadevan. Song Lyrics are written by Sameer Samant. Music has given by Shankar Ehsaan Loy.

 

रंग रंग रंग रंग
रंग रंग रंग रंग
रंग रंग रंग
रंग रंग… आ

ए री सखी मैं अंग-अंग
आज रंग डार दूँ

हे.. ए री सखी मैं अंग-अंग
आज रंग डार दूँ
अपने जी से प्रेम रंग
कैसे मैं उतार दूँ

ओ ए री सखी

तेरे बिना कहीं भी ना
व्याकुल मन लागे

बिरहन सूर ताल साज
आज तेरे आगे

नैनन को चैन नहीं
रैन रैन जागे

एक पल में टूट जाए
सांस के ये धागे
तू जो मुंह फेरे सखी
देह प्राण त्यागे
पल पल तू देख मुझे
ज़िंदगी गुजार दूँ

ए री सखी में अंग-अंग
आज रंग डार दूँ
अपने जी से प्रेम रंग
कैसे मैं उतार दूँ
ओ ए री सखी

ए री सखी
ए री सखी
ए री सखी
ओ ओ ए री सखी

Song Credits:-

Lyrics: Sameer Samant
Singer: Shankar Mahadevan
Music: Shankar Ehsaan Loy

More Music

[su_youtube url=”https://youtu.be/2lARCtyoiT8″ title=”Virah Song “]

SongLyric.in
SongLyric.in

No Comments

Write a Reply or Comment

Your email address will not be published.